You are here
49 days of aap fdi scrapped Politics 

FDI पर पाबन्दी, स्कुलो में एडमिशन के लिए हेल्पलाइन

49 days of aap fdi scrapped

महाराष्ट्र में सत्ताधारी कांग्रेस के सांसद संजय निरुपम और प्रिया दत्ता ने आज बिजली दरो में कटौती की मांग के साथ रिलायंस एनर्जी के कार्यालय के बहार प्रदर्षन किया. साथ ही उन्होंने अपनी ही पार्टी के मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चौहान को ख़त लिख कर महाराष्ट्र में बिजली कंपनियों का दिल्ली की तर्ज पर CAG ऑडिट कराने की मांग की.

जनता दरबार में बड़ी संख्या में लोग पहुँचने के कारण हुई असुविधा को देखते हुए केजरीवाल ने आज शिकायत निवारण के लिए वैकल्पिक प्रक्रिया लागु करने का निर्णय लिया. अब आम जनता को अपनी शिकायत दर्ज करने के लिए सचिवालय आने की आवश्यकता नहीं है. वो अपनी शिकायत ऑनलाइन जमा करा पाएंगे. साथ ही फ़ोन द्वारा शिकायते लेने के लिए कॉल सेण्टर शुरू करने का निर्णय लिया गया. इसके अतिरिक्त हर शनिवार को कोई भी आम आदमी मुख्यमंत्री से मिलकर अपनी शिकायत दर्ज करा पायेगा. IB ने दिल्ली पुलिस को जानकारी दी की केजरीवाल की जान को खतरा है. रिपोर्ट के अनुसार केजरीवाल की भ्रष्टाचार विरोधी नीतियों के कारण जल माफिया और अन्य लोग बौखलाए हुए है, उनका धंदा चौपट होने की संभावना है. ऐसी स्थिति में वो अपराधियों की मदद लेकर केजरीवाल को निशाना बना सकते है. केजरीवाल की असहमति के बावजूद उत्तर प्रदेश सरकार ने उनके लिए सुरक्षा व्यवस्था लगा दी. इसपर केजरीवाल ने कहा की सुरक्षा की आवश्यकता आम जनता को हो मुझे नहीं.

शिक्षा से भ्रष्टाचार को पूरी तरह ख़त्म करने की दिशा में आज एक और कदम बढाया गया. दिल्ली में स्कुलो में एडमिशन के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया. शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया की इस हेल्पलाइन पर शिकायत आने के बाद 3 दिन के भीतर शिकायत का निवारण किया जायेगा. साथ ही दिल्ली की स्कुलो में एडमिशन की स्थिति पारदर्शी रखने के लिए एक वेब एप्लीकेशन जारी किया गया. केजरीवाल ने फिर साफ किया की स्कुल एक चैरिटेबल सोसाइटी है उसका उद्देश मुनाफा कमाना नहीं होना चाहिए.

आज विश्वप्रसिद्ध सामाजिक कार्यकर्ता मेधा पाटकर ने “आप” की सदस्यता ले ली, साथ ही नर्मदा बचाव आन्दोलन और उससे जुड़े सभी संघटनो ने आम आदमी पार्टी को पूरी तरह समर्थन करने की घोषणा कर दी. मेधा पाटकर ने मीडिया से कहा की “आप” का जन्म एक भ्रष्टाचार विरोधी आन्दोलन से हुआ है. इनका लक्ष्य सत्ता नहीं सत्य है.

आम आदमी पार्टी ने आज अपना एक और मुख्य चुनावी वादा पूरा किया. मल्टी ब्रांड रिटेल में प्रत्यक्ष विदेश निवेश के शिला दीक्षित सरकार के निर्णय को पलट कर दिल्ली इस तरह का निर्णय लेने वाला देश का पहला राज्य बना. बीजेपी खुदरा क्षेत्र में FDI के केंद्र सरकार के निर्णय का सांसद में कड़ा विरोध किया था लेकिन किसी भी बीजेपी शाषित राज्य ने केंद्र सरकार के इस फैसले को पटलने का निर्णय नहीं लिया. आज केंद्र में बीजेपी की सत्ता होने के बावजूद यह निर्णय बदला नहीं गया.

प्रशांत भूषण की एक प्रेस कांफ्रेंस में विष्णु गुप्ता नामक एक व्यक्ति ने हंगामा किया जो खुद को हिन्दू रक्षा दल का अध्यक्ष बता रहा था. गाज़ियाबाद पुलिस पिछले एक सप्ताह से इस व्यक्ति की तलाश में थी. दिल्ली में भले ही VIP कल्चर ख़त्म हो गया हो लेकिन दिल्ली से सटे हुए गुडगाँव में आज VIP कल्चर का एक भयावह रूप सामने आया. साइकिल रिक्शा चलाने वाले संजय साहू जानकारी के अभाव में अपना रिक्शा उस रास्ते पर ले गए जहा से हरयाणा के मुख्यमंत्री का काफिला गुजरने वाला था. इसकी उसे तुरंत सजा दी गई. तैनात ट्राफिक पुलिस ने उसकी इतनी पिटाई की, की उसकी नाक से खून बहने लगा. उसके बावजूद वहा तैनात किसी पुलिस कर्मचारी ने उसकी मदद नहीं की. “आप” के कार्यकर्ताओ ने उसे अस्पताल पहुँचाया और इस अत्याचार के विरुद्ध प्रदर्शन किया.

Wanna Discuss? Tag your friends.

comments

Related posts