You are here

भ्रष्टाचार विरोधी हेल्पलाइन का असर – सब इंस्पेक्टर गिरफ्तार

कल रात दिल्ली में डेनमार्क की एक महिला के साथ गैंगरेप की घटना सामने आयी। मामले में पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार किया। दिल्ली की पुलिस दिल्ली सरकार के नहीं बल्कि केंद्र सरकार के नियंत्रण में होती है। मीडिया ने इस मुद्दे पर आम आदमी पार्टी को घेरा की “आप” कांग्रेस की भाषा बोल रही है। इस मुद्दे पर कांग्रेस ने भी “आप” पर निशाना साधा, संदीप दीक्षित ने बयान दिया की डैनिश महिला दिल्ली की वोटर नहीं है इसलिए “आप” इसे मुद्दा नहीं बना रही। डैनिश महिला के साथ हुए बलात्कार की इस घटना पर चर्चा के लिए केजरीवाल खुद दिल्ली के उपराज्यपाल और पुलिस कमिश्नर से मिले। 

दिल्ली उच्च न्यायालय में आज एक अजीब मामला आया। अनूप अवस्थी नामक एक व्यक्ति ने कोर्ट में गुहार लगाई की कोर्ट केजरीवाल को सुरक्षा व्यवस्था स्वीकार करने का निर्देश दे। कोर्ट ने पूछे सवाल के जवाब में अवस्थी ने कहा की केजरीवाल की जान को खतरा है, उनके कार्यालय पर हमले हो रहे है, ऐसी स्थिति में भले वो न चाहे कोर्ट को उन्हें निर्देश देना चाहिए। न्यायालय ने अवस्थी की अर्जी ठुकरा दी। 

दिल्ली पुलिस में सब इंस्पेक्टर जोसेफ जॉनसन आज भ्रष्टाचार विरोधी हेल्पलाइन के शिकार हुए। एक व्यापारी द्वारा की गई शिकायत के बाद उनपर स्टिंग किया गया। स्टिंग के आधार पर भ्रस्टाचार विरोधी ब्यूरो ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

दिल्ली के संगुरपुर इलाके में एक और दर्दनाक घटना हुई – एक महिला को जिन्दा जला दिया गया. इलाके के SHO पर महिला के सरुराल वालो को बचाने का आरोप लगा. दिल्ली की महिला एवं बाल विकास मंत्री जब घटना स्थल पर पहुंची तो SHO ने मंत्री से कहा की यदि आप कर सकते हो तो मेरा तबादला कर के दिखा दो. दिल्ली सरकार की महिला एवं बाल विकास मंत्री पुलिस की मनमानी के सामने बेबस थी. दिल्ली पुलिस दिल्ली सरकार के नहीं बल्कि केंद्र के नियंत्रण में होती है और केंद्र में कांग्रेस की सरकार थी.

मीडिया को केजरीवाल ने जानकारी दी की जनलोकपाल कानून का ड्राफ्ट एक या दो दिन में तैयार हो जायेगा। मुख्य सचिव की अध्यक्षता में एक समिति इसपर कार्य कर रही है। केजरीवाल ने फिर भरोसा जताया की फ़रवरी के पहले सप्ताह में वो जनलोकपाल बिल विधानसभा में पेश करेंगे।

Wanna Discuss? Tag your friends.

comments

Related posts