You are here
Politics 

30 दिसंबर – भ्रष्टाचार ख़त्म, दिल्ली वालो को मुफ़्त पानी

49 days of AAP 30 december अन्ना हज़ारे ने एक बयान में कहा की अरविन्द सही दिशा में जा रहे है और वो सभी पार्टियो को राजनीति सिखाएंगे। समाजवादी पार्टी के पूर्व नेता कमाल फारुकी ने केजरीवाल से मुलाकात की। मुलाकात के बाद उन्होंने मीडिया में बयान दिया की हर कोई केजरीवाल से जुड़ना चाहता है।

कांग्रेस की हरकते आज भी जारी रही। सुशिल कुमार शिंदे ने एक मीडिया चैनल को इंटरव्यू में कहा की केजरीवाल को मनमोहन सिंह से सीखना चाहिए। गठ बंधन की सरकार चलाना आसान काम नहीं। शिंदे का इशारा साफ था, सरकार चलानी है तो मनमोहन सिंह की तरह गठबंधन का धर्म निभाते हुए कांग्रेस नेताओ द्वारा किये गए घोटालो पर परदा डाले।

दिल्ली का तापमान पिछले 18 सालो के न्यूनतम 2.4  डिग्री तक पहुँच गया।अरविन्द की तबियत और बिगड़ गई और उन्हें  103 डिग्री बुखार होने की खबरे आई।

केजरीवाल सरकार ने VIP कल्चर ख़त्म करने के बाद अपने दूसरे मुख्य चुनावी वादे को आज पूरा कर दिया। बुखार के कारण वो कार्यालय तो नहीं जा पाए लेकिन दिल्ली जल बोर्ड की बैठक उनके निवास पर बुलाई गई और बैठक में निर्णय लिया गया. दिल्ली में 1 जनवरी से प्रति परिवार 20 किलोलिटर पानी प्रति माह मुफ्त देने की घोषणा कर दी गई।

आम आदमी पार्टी का एक और चुनावी वादा था 500 नए स्कुल खोलना। शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने इस दिशा में कार्य शुरू कर दिया। स्कुलो के नक्शो को महानगर पालिका से पास करवाना होता है। वहा आम आदमी पार्टी की सरकार न होने के कारण परेशानी आ सकती है। मीडिया द्वारा पूछे गए इस सवाल के जवाब में सिसोदिया ने कहा की ऐसी स्थिति में पालिकाओं पर कारवाही करने का अधिकार दिल्ली सरकार के पास है। 

मीडिया के सूत्रो से खबर आई की दिल्ली सरकार 400 यूनिट तक बिजली खपत पर सब्सिडी  देगी। साथ ही बिजली विभाग के रेगुलेटर की और से बयान आया की बिजली दरो पर पुनर्विचार करने के लिए कमसे कम 3 महीने का समय लगेगा।

एक दिन पहले शराब माफिया के साथ भिड़ंत में शहीद हुए पुलिस सिपाही के परिवार को एक करोड़ मुआवजे का ऐलान दिल्ली सरकार ने कर दिया। देश के इतिहास में शायद यह पहला मौका था जब किसी पुलिस जवान के शहीद होने पर इतनी बड़ी रकम सहायता के रूप में परिजनों को देने की घोषणा हुई हो।

केजरीवाल को तेज बुखार होने के बावजूद उनके मंत्री दिन रात काम कर रहे थे। सरकार ने आज तीसरे ही दिन एक और चुनावी वादा पूरा क़िया। दिल्ली के ऑटो वालो को गुडगाँव और नॉएडा के लिए परमिट देने की घोषणा कर दी गई।

शपथ ग्रहण समारोह के दौरान ड्यूटी पर तैनात दिल्ली पुलिस का एक सिपाही भावुक हो गया था और उसने भी आम जनता के साथ मिलकर नारेबाजी की। इस मामले पर कारवाही करते हुए शपथ ग्रहण समारोह में नारेबाजी करने के कारण उसे निलंबित कर दिया गया। दिल्ली पुलिस राज्य सरकार के नहीं बल्कि केंद्र सरकार के अधीन होती है।

आज दिल्ली में केजरीवाल को सत्ता संभाले 3 दिन हुए थे जिसमे पहला दिन शपथ ग्रहण समारोह था और बाकी 2 दिन उन्हें तेज बुखार था। लेकिन सरकार आम आदमी की है तो उससे अपेक्षाएं भी बड़ी थी। आज केजरीवाल सरकार के तीसरे दिन ही न्यूज नेशन नामक एक चैनल ने सरकार का रियलिटी टेस्ट किया। RTO कार्यालय के बाहर इस चैनल के कर्मचारियो ने दलालो से ड्राइविंग लाइसेंस बनाने का प्रयास किया। नतीजे चौकाने वाले थे। सब जगह से एक ही जवाब मिला अब केजरीवाल आ गया है, ये सब नहीं चलेगा। महज 3 दिन की सरकार,न अधिकारी बदले,न नियम कायदे और न ही कोई नए संसाधन। लेकिन इस रियलिटी टेस्ट के अनुसार दिल्ली मे भ्रष्टाचार ख़त्म हो चूका था।

49 दिन चली इस सरकार ने महज तीसरे दिन अपने 3 चुनावी वादे (मुफ़्त पानी,ऑटो को NCR में परमिट और VIP कल्चर की समाप्ति) पुरे कर दिए और दिल्ली में भ्रष्टाचार करीब करीब ख़त्म हो गया। केजरीवाल सरकार ने एक शहीद सिपाही के परिवार को एक करोड़ का मुआवजा देकर एक नई मिसाल पेश की।

इस अनोखी सरकार के चौथे दिन की रिपोर्ट कल प्रकाशित होगी। पढियेगा जरूर।

 

Wanna Discuss? Tag your friends.

comments

Related posts