You are here

अंधभक्त आपका सबसे बड़ा शत्रु है






दया आती है हम इंसानो की बुद्धि पर। हम सिर्फ व्यक्तिपूजा कर सकते है। न हममे बुद्धि है ऐसे महान लोगो के विचारो को समझने की और न हिम्मत है इन विचारो को अपनाने की। हम इन महात्माओ के सामने नतमस्तक हो यह मान लेते है की हमने कोई पूण्य का काम कर दिया।






Read More
Beyond Science 

मंगल पर दंगल






मंगल गृह से शुभ संकेत आ गए। वहां हवा पानी इत्यादि जीवन के लिए अनुकूल है। तय किया गया वहां मनुष्यो को बसाएंगे। हज़ारो दीवाने तैयार हो गए हमेशा हमेशा के लिए मंगल पर जा बसने को। योजना थी केवल 5 जोड़े भेजे जाये। आवेदन मंगाए गए, 5 सबसे अनुकूल जोड़ो को मंगल पर बसने के लिए चुना गया। मंगल पर कैसे छिड़ी दंगल पर एक काल्पनिक कहानी।











Read More

बलात्कारी शिव कुमार यादव यदि नेता होता तो?






शिवकुमार यादव, ड्राईवर – दिल्ली में एक बलात्कार का अरोपी।निहाल चंद मेघवाल, केंद्रीय मंत्री- गंगानगर में हुए  सामूहिक का आरोपी। क्या न्याय व्यवस्था दोनों मामलो में समान है?











Read More
Politics 

“आप” से आउट होते नेता






इस आंदोलन से कई तरह के लोग अलग अलग कारणों से जुड़े थे। और समय समय पर कई लोग अपने आप को इससे अलग करते गए। राजनैतिक पार्टी बनने के बाद से चाहे किसी भी कारण से कोई भी छोड़ जाये, पार्टी के कार्यकर्ता हो या मीडिया अधिकतर एक सी प्रतिक्रिया देते है. कार्यकर्ताओ की नजर से छोड़ कर जाने वाला स्वार्थी था जो किसी पद या टिकट की लालच में आया था. मीडिया के लिए यह एक बड़ी खबर बन जाती है – “आप में बड़ी फुट”, “आप में बगावत”, “आप के बड़े फलाना नेता (चाहे उन्हें कोई जानता भी न हो) और केजरीवाल के करीबी ने पार्टी छोड़ी”. “आप” के कार्यकर्ताओ से जनता को बड़ी अपेक्षाए है. इस विषय पर एक सुन्दर सा लेख लिखा है “उम्मीदों की टोपी – इसे पहने नहीं धारण करे”. समय मिले तो पढियेगा. “आप” कार्यकर्ताओ को ऐसी घटनाओ पर तुरंत प्रतिक्रिया देने से बचना चाहिए.











Read More

कैसे थमेगा आरक्षण? क्या है “आप” की निति?






आरक्षण एक राजनैतिक हथियार है, समाज को बांटने और वोट बटोरने का. आजादी के 67 वर्षो बाद भी यदि हमारे देश का कोई वर्ग पिछड़ा रहता है तो यह बेहद शर्मिंदगी के बात है. राजनैतिक पार्टियोंको आरक्षण को एक राजनैतिक हथियार की तरह इस्तेमाल करने के बजाय समाज में व्याप्त असमानता की इस बीमारी का जड़ से इलाज करने के बारे में सोचना होगा. वर्तमान में इस तरह की सोच और इच्छाशक्ति केवल आम आदमी पार्टी में नजर आती है.











Read More